विश्व

मैक्सिको में 8.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप से 40 लोगों की मौत, सुनामी की चेतावनी

मैक्सिको में 8.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप से 40 लोगों की मौत, सुनामी की चेतावनी
मैक्सिको में शक्तिशाली भूकंप से कम से कम 40 लोगों की मौत होने की खबर है.
खास बातें
तीन मीटर तक ऊंची सुनामी लहरों के उठने की आशंका
ओक्साका और चियापास राज्य भूकंप से सर्वाधिक प्रभावित
मैक्सिको के एक घंटे बाद ग्वाटेमाला में भी भूकंप आया
मैक्सिको सिटी: मैक्सिको में आए 8.2 तीव्रता के शक्तिशाली भूकंप से कम से कम 40 लोगों की मौत हो गई. मैक्सिको में अब तक आया इसी सदी का यह सर्वाधिक शक्तिशाली भूकंप है. भूकंप के बाद सुनामी की लहरें उठने की चेतावनी जारी की गई है.

अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे (यूएसजीएस) की रिपोर्ट के मुताबिक, यह भूकंप प्रशांत तट से 120 किमी की दूरी पर मैक्सिको के टेरेस पिकोस के दक्षिण-पश्चिम में आया. यह मैक्सिको सिटी से 1000 किमी दक्षिण-पूर्व में है. मैक्सिको व आसपास के देशों के लिए एक सुनामी चेतावनी जारी की गई है. इसमें तीन मीटर तक लहरों के उठने की आशंका है.

मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीटो ने 8.2 की तीव्रता वाले भूकंप को देश में शताब्दी का सबसे बड़ा जलजला बताया है. मैक्सिको के कृषि सचिव जोस कालजाडे ने कहा कि दक्षिणी-पूर्वी प्रशांत तटीय राज्य ओक्साका और चियापास भूकंप से सर्वाधिक प्रभावित हुए हैं. सिर्फ ओक्साका में ही 25 लोगों की मौत हो गई. अधिकारियों का कहना है कि मरने वालों की संख्या और भी बढ़ सकती है.

यह भी पढ़ें : मैक्सिको में 8.0 तीव्रता के भूकंप के भीषण झटके, हिलने लगीं इमारतें, डर से सड़क पर खड़े रहे लोग

टीवी न्यूज चैनल मिलेनियो को आपातकालीन आपदा एजेंसी के महानिदेशक ल्यूस फेलिप प्यूंटे ने बताया, “मकान ढहे हैं और उसके मलबे में लोग दबे हुए हैं.” मैक्सिको की भूकंप संबंधी सेवा ने कहा कि भूकंप दक्षिणी चियापास राज्य के तटीय शहर तोनाला से करीब 100 किलोमीटर दूर प्रशांत सागर के अपतटीय इलाके में तकरीबन रात 11 बजकर 49 मिनट पर आया.

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने भूकंप की तीव्रता 8.1 बताई है जिसका केन्द्र जमीन से 69.7 किलोमीटर गहराई पर था. इतनी तीव्रता का भूकंप 1985 में आया था जिसमें मैक्सिको सिटी में 10,000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी.

शुक्रवार को आया भूकंप इतना शक्तिशाली था कि उसने अपने केंद्र से करीब 800 किलोमीटर दूर उत्तर में स्थित मैक्सिको सिटी में भी घरों और इमारतों को हिला दिया और लोग बाहर भागने लगे. भूकंप के झटके देश के बड़े हिस्से में महसूस हुए. देश भर के करीब 5 करोड़ लोगों ने भूकंप को महसूस किया. इस भूकंप के झटके की वजह से मेक्सिको सिटी के निवासियों को मध्यरात्रि में सड़कों पर आने को मजबूर होना पड़ा.

भूकंप से खिड़कियां टूट गई, दीवारें गिर गईं और शहर भयावह तरंगों में घिरता दिख रहा था. भूकंप ने यहां तक कि शहर के स्मारक एंजल ऑफ इंडिपेंडेंस को हिला दिया. इसका दक्षिणी राज्य चियापास व ओक्साका में प्रभाव ज्यादा गंभीर है.

गर्वनर मैनुएल वेलास्को ने मिलनिओ टीवी से कहा कि चार लोग चियापास राज्य के सन क्रिस्टोबाल डि लास कसास में मारे गए हैं, इसमें दो महिलाएं हैं. इन लोगों की मौत इमारत गिरने से हुई. उन्होंने कहा कि भूकंप से अस्पताल व स्कूलों को भी नुकसान पहुंचा है.

About the author

Related Posts

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.